Previous
natural opal stone

NATURAL OPAL STONE -ओपल रत्न -1.6 CARAT

2,550.00
Next

KATU YANTRA

129.00
KATU YANTRA

TULSI MALA

140.00

तुलसी माला कैसे पहनें

  • भगवान विष्णु की मूर्ति या तस्वीर के सामने तुलसी माला चढ़ाएं और उसे गंगाजल और पंच गव्य से शुद्ध करें। पहनने से पहले इसे सूखने दें।
  • माला को शुद्ध करते समय और पहनते समय मूल मंत्र का जाप करें।
  • माला पहनने से पहले, भगवान विष्णु से निकटता प्रदान करने के लिए देवी तुलसी के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए आठ बार गायत्री मंत्र और सद्योजात मंत्र का जाप करें।
  • पद्म पुराण के अनुसार , तुलसी माला को लगातार पहनना चाहिए , खासकर पूजा या अराधना के दौरान।
  • इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि पहनने और जप करने की माला अलग-अलग होनी चाहिए।
  • किसी दूसरे की माला पहनना वर्जित है।
  • तुलसी माला को लांघने से बचें।
  • कभी भी माला को कंगन के रूप में न पहनें!
  • माला पहनने वाले को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वच्छ रहने का प्रयास करना चाहिए, क्योंकि माला पवित्रता का प्रतिनिधित्व करती है।
  • माला पहनने वाले को चाय और कॉफी के सेवन से भी बचना चाहिए।
Trust Badge Image

Description

सनातन धर्म में जितना महत्व तुलसी के पौधे को दिया गया है, उतनी ही महत्वपूर्ण तुलसी की माला भी है. तुलसी की माला धारण करने से मनुष्य को अनेक तरह के लाभ प्राप्त हो सकते हैं. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, तुलसी में माता लक्ष्मी का वास होता है और तुलसी की माला से भगवान विष्णु के मंत्र का जाप विशेष फलदाई माना गया है. यदि तुलसी की माला को गले में धारण किया जाए तो मन और आत्मा दोनों पवित्र हो जाते हैं.

तुलसी की माला पहनने के फायदे (Tulsi Ki Mala Ke Fayde)

धार्मिक लाभ :

  • -मान्यताओं के अनुसार, तुलसी का बहुत ही अधिक धार्मिक महत्व होता है. तुलसी की माला पहनने से कई लाभ मिलते हैं. तुलसी का माला पहनने से शुक्र ग्रह मजबूत होते हैं. मानसिक कष्टों से मुक्ति मिलती है और इससे मन भी नियंत्रित रहता है.
  • – तुलसी का पौधा नकारात्मक ऊर्जा का नाश करता है ऐसे ही तुलसी की माला पहनने से भी व्यक्ति के सभी कष्ट दू होते हैं.
  • – यह माला पहनने से सात्विक भावनाएं जगती हैं और व्यक्ति का आत्मविश्वास बढ़ता है. इसे पहनने से घर में सुख-शांति बनी रहती है.

स्वास्थ्य संबंधी लाभ :

  • तुलसी की माला पहनने से व्यक्ति कई बीमारियों से दूर रहता है. इस माला से डाइजेशन, बुखार, जुकाम, सिरदर्द और गैस की बीमारी में फायदा होता है.
  • – तुलसी की माला को गले में पहनने से इसमें से तरंगे निकलती हैं जो डाइजेशन के साथ ही ब्लड प्रेशर को भी सही करती है.
  • – व्यक्ति को पीलिया की बीमारी होने पर तुलसी की माला पहननी चाहिए. कॉटन के धागे में तुलसी की माला पहनने से पीलिया की दिक्कत बहुत तेजी से सही होती है.
  1. भगवान विष्णु का आशीर्वाद: ऐसा कहा जाता है कि तुलसी माला पहनने से भगवान विष्णु और भगवान कृष्ण का आशीर्वाद प्राप्त होता है, जैसा कि गरुड़ पुराण में बताया गया है।
  2. सुरक्षा: पहनने वाले को बुरे सपने, आतंक, हथियार, दुर्घटना, भूत और काले जादू से सुरक्षा मिलती है। मृत्यु के देवता यमराज भी व्यक्ति से सुरक्षित दूरी बनाए रखते हैं।
  3. शुद्धिकरण: तुलसी की माला मन, शरीर और आत्मा को शुद्ध करती है, सकारात्मक कंपन उत्सर्जित करती है और नकारात्मक ऊर्जा को दूर करती है। यह तुलसी माला के प्रमुख लाभों में से एक है।
  4. एकाग्रता और स्वास्थ्य: तुलसी माला पहनने से एकाग्रता में सुधार होता है और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर करने में मदद मिलती है। मोतियों की लकड़ी त्वचा के लिए फायदेमंद होती है।
  5. पापों की शुद्धि: स्कंद पुराण के अनुसार, तुलसी की माला पहनने से पहनने वाले को उसके सबसे बुरे पापों से मुक्ति मिल जाती है।
  6. आध्यात्मिक महत्व: भगवान विष्णु, कृष्ण और बलराम की पूजा के लिए तुलसी माला पहनना शुभ माना जाता है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “TULSI MALA”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shopping cart

0
image/svg+xml

No products in the cart.

Continue Shopping