Previous
hanuman yantra

HANUMAN YANTRA

129.00
Next

DURGA YANTRA

129.00
Next Product Image

SARASWATI YANTRA

129.00

कैसे स्थापित करें

  • इस यंत्र का फल तभी मिल सकता है जब आप इसका शुद्धिकरण और प्राण-प्रतिष्ठा करें. इसलिए इसे स्थापित करने के लिए बसंत पंचमी के दिन सुबह ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान आदि से निवृत हो जाएं.
  • अब इस यंत्र के सामने धूपबत्ती जलाएं.
  • अब सरस्वती यंत्र को गंगाजल और दूध से अभिषेक करें.
  • इसके बाद कुमकुम लगाएं और पीले फूल अर्पित करें
  • . अब 11 या 21 बार ‘

    ॐ वागदैव्यै च विद्महे कामराजाय धीमहि। तन्नो देवी प्रचोदयात्। ‘ मंत्र का जाप करें और इसे उत्तर-पूर्व दिशा में स्थापित करें.

  • ध्यान रखें की इसकी नोक पूर्व दिशा में हो.
  • रोजाना सुबह उठकर इसकी पूजा करें.
Trust Badge Image

Description

सरस्वती यंत्र घर में स्थापित करना शुभ होता है. ये विद्यार्थियों के बौद्धिक विकास, एकाग्रता बढ़ाने और कला के प्रेमियों को इसका मार्ग दिखाने में मदद करता है. जिस बच्चे का पढ़ाई में मन नहीं लगता हो, याददाश्त कमजोर हो उन्हें इसे धारण करने की भी सलाह दी जाती है

सरस्वती यंत्र स्थापित करने के लाभ

घर में सरस्वती यंत्र की स्थापना करने से जो बच्चे पढ़ाई में कमजोर है उनका बौद्धिक विकास होता है. पढ़ाई में एकाग्रता बढ़ती है. याददाश्त तेज होती है और सफलता मिलती है.

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “SARASWATI YANTRA”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shopping cart

0
image/svg+xml

No products in the cart.

Continue Shopping